Mushroom vikas yojana update

||mushroom-vikas-yojana-update||मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना शुरू करेगी उत्तराखंड सरकार||

mushroom-vikas-yojana-update
mushroom-vikas-yojana-update

Mushroom Vikas Yojana Application Form | मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना क्या है, लाभ एवं पात्रता जाने, आवेदन फार्म कैसे भरें | उत्तराखंड में कोरोनावायरस संक्रमण के दौरान घर वापसी करने वाले युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को शुरू करने की घोषणा की गई थी।

क्योंकि मशरूम की खेती स्वरोजगार के लिए एक बेहतर विकल्प है जिसमें कम लागत पर कम जगह पर भी किया जा सकता है और उत्तराखंड पहले से ही मशरूम की खेती के लिए मुफीद है।

इस योजना के द्वारा प्रदेश के युवाओं की बेरोजगारी दूर करके उन्हें आर्थिकी से जोड़कर पलायन करने से भी रोका जा सकेगा। अगर आप उत्तराखंड के बेरोजगार युवा है और Mukhymantri Mushroom Vikas Yojana 2022 से जुड़कर रोजगार की प्राप्ति करना चाहते हैं तो हमारे यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही लाभकारी साबित होने वाला है।

 मशरूम विकास योजना क्या है?

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी जल्द ही हरिद्वार में मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को लागू करने जा रहे हैं। इस बात की घोषणा उन्होंने 27 अगस्त 2022 को हरिद्वार के बुग्गावाला में एक निजी क्षेत्र की कंपनी के फूड प्रोसेसिंग एवं पैकेजिंग प्लांट का उद्घाटन करते हुए की है। उन्होंने कहा है कि सरकार द्वारा एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत हरिद्वार के लिए मशरूम का चयन किया गया है। Mukhymantri Mushroom Vikas Yojana के माध्यम से 25000 लोगों को लाभान्वित किया जाएगा।

Mushroom Vikas Yojana के तहत लाभार्थी युवाओं को कृषि विभाग द्वारा मशरूम की खेती करने के लिए ट्रेनिंग भी दी जाएगी। सरकार द्वारा एक जिला एक उत्पाद के तहत प्रदेश में खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के लिए 49 लाभार्थियों को ऋण स्वीकृत किया गया है जिसके सापेक्ष में 28 ईकाइयां अलग-अलग जनपदों में स्थापित हो गई। अब इसी के तहत हरिद्वार में मशरूम प्रसंस्करण इकाई को भी जल्द ही स्थापित किया जाएगा। मुख्यमंत्री उदीयमान खिलाड़ी उन्नयन योजना के बारे में जानकारी के लिए क्लिक करें

Mushroom Vikas Yojana Highlights

योजना का नाममुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना
शुरू की जा रही हैमुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी के द्वारा
कब शुरू की जाएगीजल्द ही शुरू की जाएगी
लाभार्थीप्रदेश के युवा
उद्देश्यमशरूम की  प्रसंस्करण इकाई स्थापित कर युवाओं को रोजगार दिलाना
मशरूम की प्रसंस्करण इकाई कहां स्थापित की जाएगीहरिद्वार में
साल2022
राज्यउत्तराखंड

 मशरूम विकास योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में बेरोजगार युवाओं को रोजगार से जुड़ना है। मशरूम विकास योजना के द्वारा हरिद्वार में मशरूम की प्रसंस्करण इकाई स्थापित की जाएंगी। जिसके माध्यम से राज्य में मशरूम की खेती होगी और अधिक से अधिक गुणवत्तापूर्ण मशरूम उत्पादन करने पर जोर दिया जाएगा। यह मशरूम की खेती करने के लिए इच्छुक बेरोजगार युवाओं को कृषि विभाग द्वारा प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। जिससे वह अच्छे से मशरूम की खेती कर सकें। मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना राज्य में बेरोजगार युवाओ की बढ़ती हुई दर को कम करेगी। इसके अलावा इस योजना के द्वारा  मशरूम की खेती शुरू होने से राज्य में रोजगार को बढ़ावा मिलेगा और बेरोजगार युवा रोजगार प्राप्त करके आर्थिक रूप से मजबूत बनेंगे।

Mushroom Vikas Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी जल्द ही मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को लागू करने जा रहे हैं।
  • प्रदेश सरकार द्वारा एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत हरिद्वार के लिए मशरूम का चयन किया गया है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य के 25 वर्ष पूर्ण होने पर उत्तराखंड को प्रत्येक क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाए जाने एवं आत्मनिर्भर उत्तराखंड बनाए जाने की दिशा में काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि निकट भविष्य में हम मुख्यमंत्री मशरूम विकास योजना को भी लागू करेंगे।
  • इस योजना के माध्यम से 25000 लोगो को लाभान्वित होंगे।
  • हरिद्वार में इस योजना के तहत मशरूम प्रसंस्करण इकाई स्थापित की जाएगी। इसके माध्यम से बड़े पैमाने पर मशरूम की खेती होगी।
  • इस योजना के तहत राज्य के बेरोजगार लोग मशरूम की खेती से जुड़ेंगे।
  • मशरूम की खेती करने के लिए कृषि विभाग द्वारा इच्छुक लोगों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
  • इस योजना को शुरू करने का मुख्य लक्ष्य हरिद्वार और उसके आसपास के गांव के बेरोजगार युवाओं को हरिद्वार में ही रोजगार प्रदान करना है। ताकि उन्हें रोजगार प्राप्त करने के लिए पलायन ना करना पड़े।
  • राज्य में इस योजना के द्वारा बेरोजगार लोग मशरूम की खेती से जुड़कर रोजगार प्राप्त कर सकेंगे। जिससे बढ़ती हुई बेरोजगारी दर में कमी आएगी।
  • Mukhymantri Mushroom Vikas Yojana के माध्यम से उत्तराखंड में मशरूम की खेती करने के लिए नागरिकों को प्रोत्साहित करना है।

 मशरूम विकास योजना के तहत पात्रता

  • आवेदक को उत्तराखंड का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • बेरोजगार युवा इस योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • बैंक खाता विवरण

मशरूम विकास योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले इच्छुक युवा को कृषि विभाग कार्यालय जाना है।
  • इसके बाद आपको वहां से इस योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना है।
  • अब आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़कर दर्ज करना है।
  • इसके बाद आपको सभी आवश्यक दस्तावेजों को फॉर्म से अटैच करना है।
  • अब आपको यह आवेदन फॉर्म कृषि विभाग में ही जमा कर देना है।
  • इस प्रकार से आप मुख्यमंत्री मशरुम विकास योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।
जरूरी सूचना- 
आवेदन करने के बाद अगर कृषि विभाग आपको इस योजना के तहत लाभान्वित करने के योग्य समझता है तो आपका चयन कर लिया जाएगा और आपको मशरूम की खेती करने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी।ट्रेनिंग प्राप्त करने के बाद आप मशरूम की खेती करके इस योजना से जुड़कर अपनी आय में वृद्धि कर सकेंगे।

Leave a Comment